जालसाजों को नही सताता डर पत्रकार व पुलिस बन 90 हज़ार ठगने वाले 2 अभियुक्तों संग साथी भी गिरफ्तार

0
37

जालसाजों को नही सताता डर पत्रकार व पुलिस बन 90 हज़ार ठगने वाले 2 अभियुक्तों संग साथी भी गिरफ्तार

शादाब अली

देहरादून-:खुद को पत्रकार व पुलिसवाला बता एक व्यक्ति को गौवंशी की हत्या के मामले में फसाने की धमकी देकर उससे 90 हज़ार रुपये ठगने वाले दो शातिरों को पुलिस ने आज थाना पटेलनगर अंतर्गत विजिलेंस आफिस वाली रोड से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दोनों अभियुक्तों के साथ मिलकर वादी को ठगने वाले उनके एक अन्य साथी को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस के अनुसार कल रविवार को मुस्लिम बस्ती कारगी ग्रान्ट कोतवाली पटेलनगर निवासी सलीम द्वारा थाने में शिकायत दर्ज करवाते हुए बताया कि शनिवार 19 मार्च की सुबह लगभग चार बजे जब वह अपने घर के बाहर खड़ा था तो एक स्कूटी में सवार दो युवक उसके पास आये। जिसमे से शुभम नाम के व्यक्ति ने अपने आपको पत्रकार तथा दूसरे व्यक्ति जावेद ने खुद को पुलिसवाला होना बताया। वादी के अनुसार उन दोनों ने उसको धमकी दी कि तुमने अपनी गौशाला में गौवंशी की हत्या कर रखी है जिसकी खबर वह हिन्दू संगठन को दे देंगे और उसे जेल भेज देंगे व उसे जान से मारने की धमकी दी।
इस बीच साजिद पुत्र नजीर निवासी मुस्लिम बस्ती कारगी ग्रान्ट व इस्लाम पुत्र मंजूर हसन वहाँ आ गये जिन्होने शुभम व जाबेद से बातचीत की और कहा कि ये दोनो 250000/- रु0 मे मान गये है तुम्हारे पास जितने रुपये है दे दो बाकि के मै इनको दे दूँगा तुम मुझे कल दिन तक वापस कर देना मैने जेल जाने के डर से आस-पडोस से 90000/- रु0 इकट्ठे करके शुभम व जाबेद को दे दिये जिसके बाद साजिद ने कहा कि बाकि के 160000/- रु0 देने के लिए मै मण्डी जा रहा हूँ जहाँ मै इनको रुपये दे दूँगा । और साजिद इनमे से जाबेद को अपनी गाडी मे बैठकर ले गया । कुछ देर बाद दोनो वापस आये और शुभम को भी साथ लेकर चले गये और मुझे डरा धमकाकर ब्लैकमेल करके 90000/- रु0 ले गये ।
पुलिस द्वारा पीड़ित की शिकायत पर घटनास्थल व उसके आसपास लगे तकरीबन 38 कैमरों की सीसीटीवी फुटेज खंगाल घटना की सत्यता जांची व अभियुक्तों की गिरफ्तारी को मुखबिरी तंत्रों को सक्रिय किया गया। जिस बीच पुलिस को आज मुखबिरी तंत्रों द्वारा वांछित अभियुक्तों में से तीन का विजिलेन्स आफिस को जाने वाले मार्ग मे मन्दिर से पहले होण्डा एक्टिवा UP11CA-8620 होण्डा एक्टिवा ग्रे कलर की स्कूटी के साथ खड़े होने की सूचना दी गयी।जिसपर पुलिस टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए फौरन मौके पर पहुंचा गया। जिसपर मौके पर खड़े तीनो व्यक्ति पुलिस को गाड़ी से उतरता देख भागने का प्रयास करने लगे किन्तु पुलिस द्वारा घेराबंदी कर (1) मौ0 साजिद(38) पुत्र नजीर निवासी मुस्लिम बस्ती कारगी ग्रान्ट थाना पटेलनगर जनपद देहरादून (2)जावेद(32) पुत्र सत्तार निवासी सावंत खेडी ननौता देहात थाना बडगाँव जिला सहारनपुर उ0प्र0 (3)शुभम शर्मा(24)पुत्र विनोद शर्मा निवासी ग्राम दुधली थाना चडथावल जिला मुजफ्फरनगर उ0प्र0 हाल पता सुरेन्द्र रौतेला का किराये का मकान रौतेला हाउस ,गुरुद्वारा वाली गली टर्नर रोड थाना क्लेमन्टाउन देहरादून को गिरफ्तार कर लिया गया। अभियुक्तों के वाहन के आगे पीछे प्रेस लिखा हुआ पाया गया है।

अभियुक्तों द्वारा दिये बयान के अनुसार वह तीनो व उनका एक अन्य साथी इस्लाम (50) पुत्र मंजूर हसन निवासी मुस्लिम बस्ती कारगी ग्रान्ट एक दूसरे को लंबे समय से जानते है। उ उन्होंने बताया कि उनकी मुस्लिम बस्ती में रहने वाला सलीम पशु क्रूरता में जेल जा चुका है परंतु उन्हें सूचना मिली कि वह 18-19 को गौवंशी की हत्या करने वाला है जिसपर उन चारों द्वारा उसे ब्लैकमेल करने का प्लान बनाया गया था। प्लान के मुताबिक इस्लाम ने पुरी रात सलीम की हरकतो पर नजर रखी व इस्लाम ने फोन कर साजिद को बताया कि सलीम ने अपने घर के पास एक गौशाला मे एक गाय को काट दिया है। जिसपर साजिद ने शुभम को मौके पर बुलाया। जिसके कुछ देर बाद शुभम व जावेद अपनी स्कूटी से मौके पर पहुंचे। इस्लाम व साजिद ने उनदोनो को दूर से गौशाला दिखाई जहाँ सलीम ने गाय काट रखी थी। अभियुक्तों के कहे अनुसार जब शुभम व जावेद गौशाला मे गये तो सलीम गौशाला में मौजूद था तथा वहां एक गाय सफेद व काले रंग की कटी हुयी थी जिस पर शुभम ने अपने मोबाईल से विडियो बनायी तथा सलीम को शुमम ने अपने आप को पत्रकार बताया व पत्रकार का एक कार्ड भी दिखाया तथा जावेद ने अपने आप को पुलिस वाला बताया । जिसके कुछ देर बाद इस्लाम व साजिद दोनो मौके पर पहुँचे योजना के तहत इस्लाम व साजिद ने बात को रफा दफा करने के लिए सलीम से पाँच लाख रुपये की मांग की जिस पर सलीम ने कहा कि उसके पास मात्र 90 हजार रुपये है। इसके बाद इस्लाम व साजिद ने दोनो शुभम व जावेद से मानमनोवत करते हुये 2.5 लाख रुपये मे मामले को रफा दफा करने के लिए रकम तय की। सलीम ने अपने पास से 90 हजार रुपये सलीम ने शुभम व जावेद को मौके पर दिये तथा एक लाख साठ हजार रुपये सलीम के कहने पर साजिद ने मण्डी से दोनो को दिलवाने की बात कही इस पर रजा मन्दी होने पर साजिद जावेद को अपनी कार मे लेकर दिखावे के लिये आईएसबीटी तक गया और 20 मिनट बाद वापस आ गया तथा वापस आने पर साजिद ने कहा कि उसने जावेद को एक लाख साठ हजार रुपये दे दिये है । और सलीम से कहा कि कल दिन मे मामले को निपटाने के लिए जो रुपये उसने जावेद को दिये है वो उसे वापस कर देना इसके बाद शुभम व जावेद वहां से चले गए।

साजिद के अनुसार सलीम द्वारा एक लाख साठ हजार रुपये वापस देने से मना करने पर गाँव मे कुछ लोगो को बुलाकर मिटिंग की थी जिसमे सलीम भी मौजूद था। जिसमे दोनों के बीच झगड़ा भी हुआ था। अभियुक्तों के अनुसार उन्होंने 90 हजार मे से 30 हजार रुपये पहले ही इस्लाम को सूचना देंव के एवज में दे दिए थे शेष 60 हजार बांटने के दौरान पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस द्वारा अभियुक्तों के पास से मोबाइल फ़ोन,सिम कार्ड,एटीएम कार्ड व एक प्रेस आईडी कार्ड जिस पर आईडी न0 2021-UK4( वी हिंदुस्तान न्यूज़) शुभम शर्मा रिपोटर लिखा हुआ बरामद किया है। पुलिस द्वारा अभियुक्तों के कहे अनुसार मोबाइल फ़ोन जांचने पर उसमे फाईल मेनेजर विडिय़ो गेलरी मे कई छोटे –छोटे विडियो है जिसमे रात्रि के समय मे एक गौशाला मे काले व सफेद रंग की गाय मृत कटी पडी है तथा काफी अधिक मात्रा मे खून बह रहा है, जिसे देखकर शुभम व जावेद ने बताया कि यह विडियो उन्होंने वही डेरी मे मौके पर बनायी थी जिसमे आ रही आवाज जावेद व उसकी ही है। पुलिस द्वारा अभियुक्तों के चौथे साथी इस्लाम की तलाश की जा रही है। व वीडियो क्लिप की सत्यता की जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here