विश्व नो स्मोकिंग डे पर ज्योति बाबा की चेतावनी

0
86

विश्व नो स्मोकिंग डे पर ज्योति बाबा की चेतावनी

सकारात्मक जीवन शैली से पाएं स्मोकिंग से मुक्ति..ज्योति बाबा

स्वस्थ भारत मिशन के संकल्पों को साकार बनाने में बड़ी बाधा यूथ स्मोकिंग…ज्योति बाबा

किशोरों में लोकप्रिय होते हुक्काबार जो करेंगे कैंसर की नाव में सवार..ज्योति बाबा

स्वस्थ भारत के लक्ष्य को साकार बनाने में बड़ा रोड़ा स्मोकिंग..ज्योति बाबा

कानपुर। 100 लाख मौतें सालाना दुनिया भर में तंबाकू उत्पादों के कारण होती हैं 54 करोड़ प्रत्यक्ष रूप से भारत में तंबाकू सेवन करने वाले हैं सबसे दुखद पहलू यह है कि हुक्काबारों के प्रचलन को शादी विवाह में एक बड़े स्टेटस सिंबल के रूप में समाज में मान्यता मिलना दुर्भाग्यपूर्ण भी है जिससे बच्चे और किशोर बेझिझक हुक्का का प्रयोग शुरु कर देते हैं जिसके चलते स्मोकिंग के आधुनिकतम नशे का प्रयोग करने लगते हैं उपरोक्त बात सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में आइफा,वी फॉर नेशन,सूरमा स्माइल फाउंडेशन अखिल भारतीय महिला शक्ति संघ के सहयोग से विश्व नो स्मोकिंग डे के परिप्रेक्ष्य में नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल का के तहत हंसपुरम आवास विकास पार्क में आयोजित स्मोकिंग से कैसे बचे-कैसे छोड़े जन जागरूकता कार्यक्रम में अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख व नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल का के नेशनल ब्रांड एंबेसडर योग गुरु ज्योति बाबा ने कही,ज्योति बाबा ने कहा कि ज्यादातर सिगरेट पीने वाले खुद को स्मोकर बाय चॉइस मानते हैं यह स्वीकार करना आपको तंबाकू की लत लग चुकी है सिगरेट छोड़ने की राह पर आपका यह पहला सशक्त कदम होगा क्योंकि जब तक यह नहीं मानेंगे स्मोकिंग तंबाकू छोड़ने की जरूरत ही महसूस नहीं होगी,ज्योति बाबा ने कहा कि खुद पर यकीन के साथ दृढ़ इच्छाशक्ति के द्वारा आप स्मोकिंग व अन्य नशा छोड़ सकते हैं घबराए नहीं कई बार के प्रयास में आपको निश्चित सफलता मिलेगी, वी फॉर नेशन के राष्ट्रीय सचिव दिनेश शुक्ला ने कहा कि ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वेक्षण में खुलासा हुआ है कि तंबाकू नियंत्रण कानून बिना जन सहभागिता के उतने प्रभावी नहीं हो पाए हैं क्योंकि तंबाकू का प्रयोग चबाने सूंघने मंजन व स्मोकिंग के द्वारा किया जा रहा है इसीलिए डायन तंबाकू से बच्चों के बचपन को बचाने व सुरक्षित रखने के लिए सभी को सामूहिक इंकलाब इनके विरुद्ध करना ही होगा,भानु प्रकाश शुक्ला,आईफा अध्यक्ष ने कहा कि स्मोकिंग छोड़ने हेतु खुद को अलग-थलग रखने के बजाय व्यस्त रखें उस ओर से ध्यान हटाकर सामाजिक सेवा में भागीदारी बढ़ाएं और खुश रहें। कार्यक्रम का संचालन व धन्यवाद ने दिया,अंत में सभी को धूम्रपान मुक्त बचपन वातावरण बनाने की शपथ ज्योति बाबा ने दिलाई। इस मौके पर योगाचार्य सुनील सिंह व अनुराग सर के नेतृत्व में किशोरों और बच्चों के बीच में एंटी टोबैको अवेयरनेस फन गेम्स का विशेष रूप से आयोजन किया गया।
अन्य प्रमुख संस्था सहयोगी अनुराग सिंह,अनिल पटेल,हेमा पटेल,जितेन्द्र कुमार चेयरमैन एन एस आर एल कंपनी शुभम श्रीवास्तव दिव्यांशी गौतम, आशुतोष त्रिपाठी,आरजे शुभ प्रा डी ऑस्टिन शर्मा,अग्रिमा सलोनी, अवंतिका इत्यादि थी।

हरदीप सिंह सहगल
मीडिया प्रभारी
सोसाइटी योग ज्योति इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here