कल्यानपुर पुराना शिवली रोड पर स्थित न्यू शुभ हॉस्पिटल जो वर्षों से भारत सरकार और CMO office कानपुर से रजिस्टर्ड है

0
208

कल्याणपुर/ कानपुर नगर

कल्यानपुर पुराना शिवली रोड पर स्थित न्यू शुभ हॉस्पिटल जो वर्षों से भारत सरकार और CMO office कानपुर से रजिस्टर्ड है ।

जनपद कानपुर से जिला ब्यूरो ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, रिपोर्ट ।

कानपुर नगर कल्यानपुर
आइए हम बात करते हैं जनपद कानपुर के कल्यानपुर की जहां कल्यानपुर के पुराना शिवली रोड पर स्थित न्यूज़ शुभ हॉस्पिटल जो भारत सरकार और कानपुर सीएमओ ऑफिस से रजिस्टर्ड हॉस्पिटल है । जिसका रजिस्ट्रेशन नंबर ,No,RMEE2124196 और एप्लीकेशन नंबर में0062429 है ।
जनपद कानपुर नगर के कल्यानपुर के न्यू शुभ हॉस्पिटल में जनपद कानपुर देहात के थाना गजनेर क्षेत्र के स्थित भरतपुर पिपासी के हिलौठी ग्राम निवासी विनय की पत्नी 20 वर्षीय रचना को 10 दिन पहले एलएलआर अस्पताल कानपुर (हैलट) में भर्ती कराया गया था । जहां पर डाक्टरों ने हालत गंभीर देख कर रचना को डिस्चार्ज कर दिया था ।
हैलेट से डिस्चार्ज होने पर सास_ससुर और पति दर-दर भटक रहे थे ।
रचना के ससुर प्रकाश प्रांतीय रक्षा दल (पीआरडी) में सेवारत रचना के ससुर विजय ने बताया कि मेरी बहू को किडनी की बीमारी थी । एलएलआर अस्पताल (हैलट) से रिफर होने के बाद मेरा कोई सहारा नहीं था । कुछ आसपास जानकारी मिलने के बाद जनपद कानपुर नगर के कल्यानपुर के पुराना शिवली रोड पर स्थित एक सीएमओ ऑफिस से रजिस्टर्ड (न्यू शुभ हॉस्पिटल) एक गरीबों का मात्र सहारा है । मैं अपनी बहू को 21 फरवरी को कल्याणपुर के पुराना शिवली रोड पर स्थित न्यू शुभ हॉस्पिटल में भर्ती कराया था । जहां पर वरिष्ठ डाक्टरों ने हालत गंभीर देख कर उसे आईसीयू में रखा गया था । मरीज रचना का एक बार डायलिसिस भी कराया गया था । अधिक कमजोरी होने के कारण हालत फिर भी गंभीर थी । इलाज के दौरान बीती तारीख 27 फरवरी 2022 समय सुबह 10:00 बजे रचना की मौत हो गई । वरिष्ठ डॉक्टरों द्वारा रचना की मौत की जानकारी समय अनुसार रचना के परिजनों को बता दी गई थी ।
लेकिन अपनी कमजोरी को ना बता कर लेकिन रचना के परिजन ससुर और देवर ने न्यू शुभ हॉस्पिटल के ऊपर झूठा आरोप लगाते हुए कहा कि बिना रजिस्टर्ड के संचालित है हॉस्पिटल ।
झूठे परिजनों ने कुछ पैसों के लालच में 2और 4 चाटुकार एवं दलाल पत्रकारों को बुलाकर भारत सरकार और सीएमओ ऑफिस से रजिस्टर्ड न्यू शुभ हॉस्पिटल की खबर को कराया प्रकाशित ।
कुछ ऐसे दलाल चाटुकार पत्रकारों के नाम भी प्रकाशित है जैसे, जन एक्सप्रेस पेपर से अंकित चौधरी और 24 TET से कानपुर ब्यूरो चीफ अवनीश यादव आदि पत्रकार भी शामिल है ।,,,,,,,,,
परिजनों ने अपने मरीज के दवा और मेडिसिन का भुगतान न कर पाने पर । हॉस्पिटल पर झूठा आरोप लगाया है ।
बिना रजिस्टर्ड के संचालित है हॉस्पिटल । यहां तो यह झूठी खबर प्रकाशित है कि बिना सीएमओ ऑफिस से रजिस्ट्रेशन के कैसे संचालित हो सकता है हॉस्पिटल ।
वहीं दूसरी ओर मेरी बहू का एक बार डायलिसिस भी कराई गई थी । रचना के ससुर ने बताया कि हमने सिर्फ न्यू शुभ हॉस्पिटल में ₹30,000 जमा किए हैं । बाकी शेष हम नहीं जमा कर पाएंगे । बकाया शेष नहीं जमा करने पर उन्होंने रजिस्टर्ड हॉस्पिटल को बिना रजिस्टर्ड संचालित कहकर कुछ दलाल चाटुकार पत्रकारों से खबर प्रकाशित कराई ।
अब देखना यह होगा कि सूचना विभाग कानपुर नगर ऐसे पत्रकारों पर कब करेगी निगरानी । या फिर ऐसे ही अपने बाइक और कारो पर प्रेस पत्रकार लिखा कर अवैध वसूली करने का धंधा अपनाएंगे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here