न हों परेशान, कोविन पोर्टल पर नाम, आयु, लिंग या मोबाइल नंबर जैसी त्रुटियों में सुधार करना हुआ आसान

0
52

न हों परेशान, कोविन पोर्टल पर नाम, आयु, लिंग या मोबाइल नंबर जैसी त्रुटियों में सुधार करना हुआ आसान
टीकाकरण प्रमाण-पत्र में किसी भी तरह की त्रुटी होने पर cowin.gov.in पर लॉगिन कर लाभार्थी स्वयं कर सकते हैं सुधार के लिए आवेदन
गोंडा, 12 जनवरी – 2022 ||
स्वास्थ्य महकमे द्वारा विगत 16 जनवरी 2022 से कोविड टीकाकरण एक महाभियान के रूप में चलाया जा रहा है | अब तक जिले के नागरिकों को कोविड टीके के 36 लाख 82 हजार 118 डोज से आच्छादित किया जा चुका है, लेकिन टीकाकरण की इन गतिविधियों के दौरान कतिपय त्रुटियाँ भी हुयीं हैं, जिनके कारण लाभार्थियों को प्रमाण-पत्र प्राप्त करने, दूसरी डोज लगवाने तथा विदेश यात्रा के लिए प्रमाण पत्र पर पासपोर्ट विवरण अंकित न होने जैसी दिक्कतें आ रहीं हैं | इन समस्याओं के समाधान को लेकर महकमे द्वारा ठोस कदम उठाया गया है | इस सम्बन्ध में मिशन निदेशक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अपर्णा उपाध्याय द्वारा सूबे के समस्त जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पत्र जारी करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गये हैं |
उक्त जानकारी बुधवार को अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एपी सिंह ने दी | उन्होंने बताया कि कोविड टीकाकरण के समय वैक्सीनेटर या वेरिफायर द्वारा कोविन पोर्टल पर की जा रही प्रविष्टियों में कतिपय त्रुटियों जैसे- लाभार्थी के नाम / आयु / लिंग / फोटो पहचान पत्र में त्रुटियाँ, द्वितीय डोज लगने के बाद भी प्रथम डोज का ही प्रमाण पत्र प्राप्त होना, विदेश यात्रा के लिए प्रमाण पत्र पर पासपोर्ट का विवरण अंकित न होना, कोविन पोर्टल पर लॉग-इन किये जाने हेतु किसी अन्य के मोबाइल नंबर का उपयोग, कोविन पोर्टल पर लाभार्थियों का मोबाइल नंबर गलत होना होना, कोविन पोर्टल पर लाभार्थियों का अलग-अलग मोबाइल नंबर / पहचान पत्र से दो बार टीकाकरण की शिकायत प्राप्त हुयीं हैं |
उन्होंने बताया कि मिशन निदेशक द्वारा इस सम्बन्ध में जारी पत्र में कोविन पोर्टल पर भरे गए त्रुटिपूर्ण जानकारियों में सुधार हेतु जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए हैं | लाभार्थी द्वारा कोविन पोर्टल से जारी टीकाकरण प्रमाण पत्र में सुधार हेतु अनुरोध किया जा सकता है |
करने होंगे ये काम :
इन्टरनेट ब्राउजर पर cowin.gov.in टाइप करें |
कोविन होम पेज पर ऊपरी ओर दायें कोने पर register / sign in ऑप्शन पर क्लिक करें |
लॉगिन पेज पर वह मोबाइल नंबर अंकित करें, जिससे टीकाकरण कराया गया एवं प्राप्त छः अंकों के ओटीपी वेरीफाई कर आगे बढ़ें |
अब लाभार्थी को अपनी प्रोफाइल और टीकाकरण की स्थिति दिखाई देगी | टीकाकरण प्रमाण पत्र में किसी भी त्रुटी के लिए ऊपरी दायीं ओर “Raise an issue” ऑप्शन को क्लिक करें | सुधार के लिए छः अलग-अलग आप्शन उपलब्ध होंगे |

गौरतलब हो कि कोविड टीकाकरण के बाद जारी प्रमाण पत्र में सुधार हेतु जिला प्रतिरक्षण अधिकारी नोडल अधिकारी के रूप में नामित हैं | लाभार्थियों द्वारा प्रमाण पत्र में सुधार हेतु दिए गए प्रतिवेदन जिला प्रतिरक्षण अधिकारी के कोविन पोर्टल पर प्रदर्शित होंगे | जिला प्रतिरक्षण अधिकारी द्वारा ही आवेदित सुधार को सत्यापित करते हुए Approved / Reject किया जाएगा | इसके बाद लाभार्थी अपना संसोधित प्रमाण पत्र पोर्टल पर स्वयं पंजीकरण से डाउनलोड कर सकता है |
इसके साथ ही डॉ एपी सिंह ने बताया कि लाभार्थी द्वारा कोविन पोर्टल पर परिवर्तन हेतु अधिकतम दो बार अनुरोध किया जा सकता है | विशेष परिस्थिति में कोविड टीकाकरण प्रमाण पत्र में पुनः परिवर्तन के लिए जनपद स्तरीय अधिकारियों से सम्पर्क करना आवश्यक होगा | कोविड से सम्बंधित किसी भी सहायता के लिए सीएमओ कार्यालय के हेल्पलाइन नंबर- 7398999705, 7398999406 या 05262 – 227855 पर जनपदवासी कभी भी सम्पर्क कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here