लखनऊ की कैंट विधानसभा को सीट कर लेकर सपा वा राष्ट्रीय जनता दल किसी बात पर निर्णय नहीं हो पाया बता दें राष्ट्रीय

0
5

लखनऊ की कैंट विधानसभा को सीट कर लेकर सपा वा राष्ट्रीय जनता दल किसी बात पर निर्णय नहीं हो पाया बता दें राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष श्री अशोक सिंह ने सात सीटें समाजवादी पार्टी से मांगी थी जिस पर बातचीत के दौरान 3 सीटों पर लगभग सहमति बन गई है तीसरी सीट जो सबसे अहम मानी जा रही है वा लखनऊ कैंट विधानसभा की है जिस पर राष्ट्रीय जनता दल ने अपनी प्रदेश महिला अध्यक्ष इंजीनियर ममता मल्होत्रा के नाम की मोहर लगाई है बता दें इस सीट पर मुलायम सिंह यादव जी की बहू अपर्णा यादव चुनाव लड़कर हार चुकी हैं उसके बाद हुए उपचुनाव में मेजर आशीष चतुर्वेदी भी समाजवादी पार्टी से लड़कर हार चुके हैं मेजर आशीष चतुर्वेदी सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के बहुत करीबी माने जाते हैं परंतु राजद ने इसी को आधार बनाकर यह सीट अपने खाते में मांगी है सूत्र बताते हैं कि राष्ट्रीय जनता दल इस सीट को लेकर गंभीर है वह इस सीट को किसी कीमत पर छोड़ना नहीं चाहता इसीलिए राजद ने अपनी महिला प्रदेश अध्यक्ष इंजीनियर ममता मेहरोत्रा पर दांव लगाया है बता दें इंजीनियर ममता मेहरोत्रा एक प्रतिष्ठित चिकित्सा घराने की बहू है खास बात यह है उन्होंने बहुत जल्द ही राजनीति में अपनी पहचान बना ली अपनी बेबाक टिप्पणी के लिए जानी जाती हैं युवा वर्ग व मीडिया में लोकप्रिय हैं साथ ही एक बड़ी कारपोरेट लाबी उनके साथ है कैंट विधानसभा ब्राह्मण बाहुल्य है और इंजीनियर ममता मेहरोत्रा भी खुद ब्राह्मण परिवार से ताल्लुक रखती है इसलिए राष्ट्रीय जनता दल इस सीट को पाने के लिए जी तोड़ कोशिश कर रहा है अब देखना होगा यह सीट किसके खाते में जाती है सब कुछ सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के ऊपर निर्भर होगा !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here