कोरोना से लड़ाई में जिम्मेदारी निभाएं, अभिभावक अपने 15 से 18 साल के बच्चों का टीकाकरण जरूर करवाएं

0
24

कोरोना से लड़ाई में जिम्मेदारी निभाएं, अभिभावक अपने 15 से 18 साल के बच्चों का टीकाकरण जरूर करवाएं
एसीएमओ ने टॉमसन इंटर कॉलेज के बच्चों को गिनाए कोविड टीके के फायदे, 560 बच्चों ने ली टीके की पहली डोज
टीकाकरण के बाद बुखार, उल्टी या बदन दर्द होना मतलब टीका शरीर में बनाने लगा एंटीबॉडी, घबराएं नहीं ये स्वतः या सामान्य दवा से हो जाएगा ठीक

गोंडा, 07 जनवरी – 2022 ||
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय व चिकित्सकों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा टीकाकरण को ही कोरोना से लड़ाई का सबसे बड़ा हथियार माना जा रहा है | इसको लेकर देश भर में विगत वर्ष 16 जनवरी 2021 से कोविड टीकाकरण का महाभियान चल रहा है और अलग-अलग चरणों में लोगों का टीकाकरण कर समुदाय में कोरोना का सुरक्षा कवच तैयार करने की कोशिश स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही है | इस सुरक्षा कवच को और अधिक मजबूत बनाने के लिए देश की बड़ी आबादी यानि 15 से 18 साल तक के किशोर-किशोरियों का कोविड टीकाकरण नए साल में 3 जनवरी से शुरु कर दिया गया है |
उक्त बातें गुरुवार को नगर क्षेत्र के शहीद ए आज़म सरदार भगत सिंह (टॉमसन) इंटर कॉलेज में लगे कोविड टीकाकरण सत्र के पर्यवेक्षण के दौरान अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एपी सिंह ने कही | उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण की दर को देखते हुए टीकाकरण की गति को भी बढ़ा दिया गया है | अभी तक 18 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा था, लेकिन अब 15 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण कार्य तेजी से किया जा रहा है | किशोर-किशोरियां टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल पर पंजीकरण कर टीकाकरण केंद्रों पर पहुंचकर टीका लगवा सकते हैं | साथ ही ऑन स्पॉट पंजीकरण की भी सुविधा है |
इसके साथ ही उन्होंने 15-18 वर्ष के बच्चों को कोविड टीकाकरण कराने हेतु प्रोत्साहित किया | कोरोना महामारी से बचाव में टीकाकरण के महत्व को की जानकारी देते हुए टीके के निर्माण और मानव शरीर पर उसके कार्य करने की विधि को विस्तार से बताया | उन्होंने कहा कि टीकाकरण लगने के बाद रोग प्रतिरोधक प्रणाली के सक्रिय होने एवं शरीर में एंटीबॉडी बनने के क्रम में साधारण प्रतिकूल प्रभाव जैसे- बुखार,उल्टी या बदन दर्द हो सकता है, जो स्वतः या सामान्य दवा से ठीक जाता है | ऐसे में घबराना और हताश नहीं होना है | उन्हें बच्चों से यह भी कहा गया कि यदि उनके घर, परिवार या पड़ोस में अब भी कोई व्यक्ति टीकाकरण से वंचित रह गया है, तो उन्हें भी टीका लगाने में सहयोग करें | गुरुवार को टॉमसन इंटर कॉलेज में 560 बच्चों को टीका लगाया गया | शुक्रवार को दस टीमों द्वारा अर्बन क्षेत्र के इंटर कॉलेजों के बच्चों को टीका लगाया जाएगा |
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ जय गोविंद ने बताया कि बीमारी से ग्रसित व 60 साल से अधिक उम्र के लोगों, हेल्थ केयर वर्कर व फ्रंटलाइन वर्कर को प्रिकॉशन डोज देने की शुरुआत 10 जनवरी से शुरू होगी | इन सभी को कोविन पोर्टल पर पूर्व में ही पंजीकरण के आधार पर प्रिकॉशन डोज दी जाएगी | चुनाव ड्यूटी में शामिल होने वाले कर्मचारियों को भी इसमें शामिल किया गया है, इन्हे भी प्रिकॉशन डोज जी जाएगी, जिससे चुनाव के दौरान ड्यूटी पर तैनात कर्मचारी कोरोना से सुरक्षित रह सकें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here