मौलाना मोहम्मद अली जौहर हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट, किरतपुर में जौहर डे का हुआ आयोजन

0
52

मौलाना मौहम्मद अली जौहर हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट, किरतपुर में मौलाना मौहम्मद अली जौहर के यौम-ए-पैदाइश के मौके पर जौहर डे का आयोजन किया गया। प्रोग्राम की सदारत काॅलेज के मैनेजर वह मुस्लिम फण्ड बसी किरतपुर के सदर जनाब मौहम्मद साईम राजा साहब ने फीता काटकर किया। मेहमान-ए-खुसूसी जनाब मुफ्ती शमऊन कासमी साहब सदस्य, परियोजना अनुमोदन बोर्ड एस0पी0ई0एम0एम0 अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय, भारत सरकार, सदस्य शिक्षा बोर्ड अलीगढ़ विश्वविद्यालय, अन्ना हजारे विरोधी भ्रष्टाचार आंदोलन के संस्थापक सदस्य, संस्थापक अध्यक्ष राष्ट्रीय सर्व धर्म एकता संघ रहे। प्रोग्राम का आगाज़ हाफिज ज़ियाउर्रहमान बी0ए0 प्रथम वर्ष की तिलावत-ए-कला मुल्लाह और बी0ए0 प्रथम वर्ष के रिज़वान की नात-पाक से किया गया। निज़ामत के फरायज़ काॅलेज के हिन्दी प्रवक्ता डॉ0 शमशाद हुसैन अलीग ने अंजाम दिये। प्रोग्राम में कॉलेज के छात्र/छात्राओं ने मौलाना जौहर के ताल्लुक से तकरीर और नज्में पेश की। महाविद्यालय के मैनेजर व मुस्लिम फण्ड बसी किरतपुर के सदर जनाब मौहम्मद साईम राजा साहब ने अपनी तकरीर में बताया कि साल में एक दिन मौलाना मौहम्मद अली जौहर को याद कर लेने से उनका हक अदा नहीं हो जाता बल्कि उनको सच्ची खिराज-ए-अक़ीदत तभी मुमकिन है जब हम उनके बताए हुए रास्ते पर चलें अपने वतन से मोहब्बत करें और मज़हब को अपनी जिंदगी में उतारे और अपना अपने माँ बाप और काॅलेज का नाम रोशन करें। मेहमान-ए-खुसूसी मुफ्ती शमऊन कासमी साहब ने बड़ी तफसील के साथ मौलाना की हालात-ए-जिं़दगी और कारनामों पर रोशनी डाली। जनाब डाॅ0 अफशान खान, शब्बन जुनैदी, साहिल मेहरा, हसन अली चैधरी, तलहा मकरानी, शनावर किरतपुरी, मुंशी हसीनुद्दीन साहब ने अपने विचार रखे।
महाविद्यालय के मैनेजर और मुस्लिम फण्ड बसी किरतपुर के सदर जनाब मौहम्मद साईम राजा साहब ने कक्षा में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वालेे छात्र-छात्राओं को इनामात से नवाज़ा। साथ ही महाविद्यालय के स्टाफ को पुरस्कार देकर हौसला अफज़ाई की। अन्त में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ0 मोहित बंसल जी ने सभी मेहमानों का शुक्रिया अदा किया। प्रोग्राम को सफल बनाने में डॉ0 बेगराज यादव, डाॅ0 अनुज कुमार राजपूत, डाॅ0 चारु बंसल, निखिल भटनागर, दानिश परवेज़, उज़मा परवीन, रजनी, मौ0 फारुक, अन्तिम चैधरी, रिज़वाना खान, अब्दुल शाकिर, शुमाएला आदि सभी स्टाफ सदस्यों ने पूर्ण सहयोग दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here